Types of Risk in workplace - रिस्क के कितने प्रकार हैं

Types of Risk in workplace

जैसे के Hazards के प्रकार होते हैं उसी प्रकार किसी भी इंडस्ट्री में वर्कसाइट पर Risk की भी Categories होती है, आज का ये आर्टिकल बहुत ही इम्पोर्टेन्ट हैं क्यूंकि इस तरह का आर्टिकल आपको जल्दी वेबसाइट पर नहीं मिलेगा आप इसे पूरा पढ़ें ये किसी भी इंडस्ट्री में वर्कसाइट पर Types of Risk in workplace जानकर आपको Risk Assessment करने में बहुत सहायता मिलेगी और आप आसानी से रिस्क को एनालाइज कर सकेंगे और उसको केटेगरी के हिसाब से साइट पर अप्लाई कर सकेंगे। 

$ads={1}



लेकिन एक बात ध्यान रखना ज़रुरी है के आपको Hazards and Risk में अंतर को समझना बहुत ही ज़रूरी है अगर आप ये बेसिक को सही से नहीं समझ पाएंगे तो आपको बहुत मुश्किल पेश आ सकती है इसिलए आपको हैज़ार्डस और रिस्क में अंतर को समझने के बाद ही Types of Risk in workplace सही से समझ सकेंगे और उसको अपने कार्य क्षेत्र पर अप्लाई कर सकेंगे। 

मैंने Hazards and Risk के अंतर को सटीक उदाहरण के साथ अपने यूट्यूब वीडियो में बताया है उसे देखकर आप आसानी से अपना कांसेप्ट क्लियर कर सकते हैं। 

अब चलते हैं आज के मेन टॉपिक किसी भी इंडस्ट्री के वर्कसाइट में Types of Risk की तरफ और देखते हैं के रिस्क के प्रकार कितने होते हैं उसको उदाहरण से भी एक्सप्लेन करने की कोशिश किया गया हैं।

Types of Risk in workplace:-

1. Residual risk -  

जैसा के जहाँ हम काम करते हैं वहां पर कई अलग तरह के हैज़ार्डस होते हैं और उनसे बहुत सारा खतरा भी उत्पन्न होता है हम उनसे बचने के लिए हर तरह के कण्ट्रोल मेझस का उपयोग करते हैं लेकिन फिर भी रिस्क हो सकता है। ये Residual Risk एक ऐसा रिस्क है जो मौजूदा नियंत्रणों (Control measures) को अप्लाई करने के बाद भी बना रहता है। 

इसको एक सिंपल उदाहरण से समझतें हैं - अगर कोई वर्कर हाइट पर काम कर रहा होता है किसी स्कैफोल्ड पर पुरी सेफ्टी के साथ हार्नेस, सेफ्टी नेट, गार्डरेल्स आदि सब मौजूद होने के बावजुद भी वो वर्कर का पैर डिस्लोकेट होकर या किसी वजह से बेहोश होकर उसी प्लेटफॉर्म पर गिर सकता है। 

Types of Workplace Risk

2. Acceptable risk - 

अगर Residual Risk बहुत ही कम है और सारे कंट्रोलस उपलब्ध हैं, तो इसे Acceptable Risk माना जाता है। 
इसको कुछ सिंपल उदाहरण से समझतें हैं - डस्ट मास्क लगाने के बावजूद भी डस्ट को इन्हेल करना। ज़हरीले गैस को परमिट लिमिट से नीचे एक्सपोज़ होना। बिज़ी ट्रैफिक में CO का एक्सपोज़र होना। 

3. Tolerable risk- 

ये एक ऐसा रिस्क है जिसे Accept तो नहीं लेकिन कुछ समय के लिए टोलरेट किया जा सकता है, ताके दिए गए समय में सही पर्याप्त कण्ट्रोल मेजर को तैयार किया जा सके। 

इसको एक सिंपल उदाहरण से समझतें हैं - हजार्डस केमीकल्स को टेम्पोरी स्टोरेज एरिया में रखना जबतक के दिए गए समय में नया परमानेंट स्टोरेज एरिया नहीं बना लिया जाता। 


4. Unacceptable Risk - 

जैसा के नाम से ही समझ सकते हैं ये ऐसा रिस्क है जिसे पहचानने के बाद काम करने की इज़ाज़त नहीं दी जा सकती क्यूंकि इसका रिस्क लेवल बहुत ज़्यादा हाई होता है। 

इसको कुछ सिंपल उदाहरण से समझतें हैं - बिना किसी प्रोटेक्शन के ऊंचाई (Work at height) पर काम करना । लटके हुए लोड (Suspended Load) के नीचे काम करना। 

ये कुछ ऐसे उदाहरण हैं जिसे अनसेप्टबल रिसक की केटेगरी में शामिल किया गया है, आपको भी ऐसे ही रिस्क की पहचान करके उसको केटेगरी में डिवाइड करके रिस्क असेसमेंट करना है, ये ऊपर दिए गए चार केटेगरी से आपको बहूत कुछ क्लियर हो गया होगा।

अगर आपको अभी भी समझने में परेशानी हो रही है तो आप निचे दिए गए यूट्यूब वीडियो देखकर समझ सकतें हैं।


Conclusion-

आज इस आर्टिकल में मैंने बताया के Types of Risk in workplace कितने हैं उम्मीद करता हूँ आपको समझ में आया होगा और रिस्क के कितने प्रकार हैं इसकी समझ हो गयी होगी जिससे आपको समझने में रिस्क को एनालाइज करने में आसानी होगी।  अगर आपका कुछ कमेंट है कुछ पूछना है तो कमेंट बॉक्स में मुझे कमेंट ज़रूर करें।


Post a Comment

If you have any questions and doubts, Please let me know.

Previous Post Next Post