Difference Between Hazard and Risk - खतरा और जोखिम में अंतर

Difference Between Hazards and Risk

दोस्तों ये एक ऐसा Difference Between Hazards and Risk in Hindi टॉपिक ज़्यादातर लोग कन्फ्यूज्ड रहते हैं। आज मैं आपलोगों की ये कनफ्यूज़न को दूर करने की कोशिश करूँगा। सेफ्टी प्रोफेशनलस के लिए ये हज़ार्डस और रिस्क्स एक बुनियादी टॉपिक है जो हर लेवल पर काम आता है। और आप सबको इसकी सही से समझ होनी ही चाहिए।

Different Between Hazards and Risk

Hazard Meaning in Hindi-

Hazard:-   ये कोई स्रोत/ज़रिया, परिस्थिति या कोई कार्य जिसके होने से नुकसान हो, जैसे किसी को चोट पहुंचे या बीमार हो जाये। 

Risk:-  हजार्डस से होने वाले नुकसान की संभावना और तीव्रता को रिस्क कहा जाता है।  


अब इसे कुछ उदाहरण/मिसाल (Examples) से समझते हैं।  

Example No-1

आप एक सुनसान जंगल वाले रोड से गुज़र रहें हों और आपके सामने एक भूखा शेर आ जाये, अब आपको पता हो गया होगा के वहां पर हज़ार्डस क्या है 😄 और उस हज़ार्डस से आपको क्या और कितना नुकसान हो सकता है, लेकिन तभी आपने देखा के वहां के वन अधिकारी ने रोड के साइड में लोहे का जाल लगा रखा है। लेकिन वो जाल इतना मज़बूत नहीं है, और भूखा शेर जाल तोड़ कर आप पर हमला कर सकता है और आपकी जान ले सकता है। शेर एक हज़ार्ड है और जाल लगा कर उसको कण्ट्रोल किया गया है लेकिन अगर जाल टूट जाता है तो किसी को नुकसान पहुंच सकता या किसी की जान जा सकती है, ये रिस्क है। alert-info 

$ads={2} 

Example No-2

एक और उदाहरण घर का लेते हैं, हम सब के घर में साफ़ सफाई का सामान होता ही है, जैसे हार्पिक या एसिड जो के हम सब जानते हैं के ज़हर होता है. हमारे घर में बच्चे भी होते हैं और उनको इनसे ज़यादा खतरा होता है इसिलए हम इस ज़हर को किसी लॉक्ड कप्बोर्ड या किसी ऐसी जगह रखते है जो बच्चे की पहुँच से दूर हो, ये एसिड एक हज़ार्ड है अगर इसको ऐसी जगह रखा गया जहाँ बच्चे आसानी से पहुँच जाएँ और तो नुकसान हो सकता है, ये रिस्क है कप्बोर्ड को लॉक करके हज़ार्ड कण्ट्रोल और रिस्क कम किया गया। alert-info


ये भी पढ़ें-  LEL और UEL में क्या Difference है, उदाहरण के साथ समझें।


Conclusion & Suggestions

दोस्तों ! Difference Between Hazards and Risk in Hindi के लेख मे मैंने ये कॉमन उदाहरण इसलिए दिया था के आपलोगो को सही से समझ आ जाये के हैज़ार्डस और रिस्क में क्या फ़र्क़ होता है और इन दोनों के बीच में अंतर कैसे करें। इसी तरह से जहाँ पर जिस जगह आपलोग काम करते हैं वहां पर इसी तरह के हैज़ार्डस होते हैं अलग अलग रूप में और उन हैज़ार्डस का रिस्क भी अलग होता है। उनको पहचान कर रिस्क एनालिसिस करके कण्ट्रोल किया जाता है।  

इसपर मेरे यूट्यूब चैनल पर वीडियो में भी मैंने समझाया है आप देख सकते हैं और चैनल को सब्सक्राइब भी कर सकते हैं।
 
    

Post a Comment

If you have any questions and doubts, Please let me know.

Previous Post Next Post